किसानों की कर्जमाफी के बाद अब सिंधिया ने कमलनाथ सरकार पर उठाया ये सवाल

0
154

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एक के बाद एक लगातार वार किए जा रहे हैं। दो दिन पहले उन्होंने किसानों के दो लाख रुपये तक के कर्ज माफ न होने को लेकर सवाल उठाए थे, और अब उन्होंने तबादलों व पोस्टिंग पर सवाल उठाए हैं। 

सिंधिया इन दिनों ग्वालियर-चंबल संभाग के दौरे पर हैं, और उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ मुरैना में हुई एक बैठक में तबादलों और पोस्टिंग की जारी प्रक्रिया पर तंज कसा। सूत्रों के अनुसार, सिंधिया ने कहा, “प्रदेश में तबादलों और पोस्टिंग में जो हो रहा है, वह सबको पता है। आप लोग तबादलों की सिफारिशों में संयम बरतें।” इससे दो दिन पहले सिंधिया ने किसानों के दो लाख रुपये तक के कर्ज माफ  न होने की बात कही थी। उन्होंने भिंड में कहा था, “किसानों की कृषि ऋण माफी समग्रता से नहीं की गई है। केवल 50,000 रुपये तक का ऋण ही माफ  किया गया है। जबकि हमने दो लाख रुपये तक का ऋण माफ करने के लिए कहा था। दो लाख रुपये तक के कृषि ऋण को माफ किया जाना चाहिए।”

सिंधिया के कर्जमाफी वाले बयान पर मुख्यमंत्री कमलनाथ का कहना है, “हमने पहली किश्त में 50 हजार रुपये तक का कर्ज माफ करने की बात कही थी, उसे किया है। अब आगे कर रहे हैं। अब दो लाख रुपये तक का करेंगे।” कांग्रेस के वरिष्ठ नेता इससे पहले कांग्रेस के आत्मावलोकन की बात कह चुके हैं। उन्होंने कहा था, “कांग्रेस को आत्मावलोकन की जरूरत है और पार्टी की आज जो स्थिति है, उसका जायजा लेकर सुधार करना समय की मांग है।”

सिंधिया के किसान कर्जमाफी को लेकर उठाए गए सवाल पर विपक्षी दल भाजपा ने हमले तेज कर दिए हैं। प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने रविवार देर शाम कहा, “कांग्रेस सरकार ने किसानों के कर्ज माफ नहीं किए हैं। यह उनकी पार्टी के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ही प्रदेश सरकार की कर्जमाफी योजना की पोल खोल कर रख दी है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here