तूफान से भी बड़ा विनाश करते हैं PM मोदी: ममता बनर्जी

0
59

कोटुलपुर: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जबरन वसूली करने वाला टोलाबाज करार देते हुए कहा है कि उन्होंने नोटबंदी के जरिए बलपूर्वक लोगों का धन हथिया लिया। बनर्जी ने बिशनूपुर लोकसभा सीट से तृणमूल प्रत्याशी के पक्ष में आयोजित चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा, नरेंद्र मोदी यहां आते हैं और मुझे टोलाबाज कहते हैं, ऐसी जुरर्त। उन्होंने पूछा, हम कहते हैं कि तृणमूल कांग्रेस मंदिर, मस्जिद, चर्च के लिए खड़ें है और वह हमें टोलाबाज कहते हैं। हम जानना चाहते हैं कि नोटबंदी के माध्यम से उन्होंने टोलाबाज के रूप में कितना पैसा जमा किया जिसे लोगों ने कड़ी मेहनत से कमाया था।

PunjabKesari

लोग हर समय मोदी से रहते हैं भयभीत
उन्होंने कहा, अक्सर लोग मुझसे पूछते हैं कौन ज्यादा खतरनाक है तूफान या नरेंद्र मोदी। मैं हमेशा जवाब देती हूं नरेंद्र मोदी, क्योंकि वह तूफान से भी बड़ा विनाश करते हैं। बनर्जी ने कहा, लोग हर समय मोदी से बहुत भयभीत रहते हैं। हम शांति चाहते हैं, युद्ध और विनाश नहीं। इसलिए मोदी को सत्ता से हटा दिया जाना चाहिए।  मुख्यमंत्री ने कहा, पिछले पांच वर्षों के दौरान कई बार वह मोदी के पास गईं और बंगाल के लिए आर्थिक सहायता मांगी। उन्होंने मेरी मांग कभी स्वीकार नहीं की और अब स्वयं के एजेंडे को आगे बढ़ाने का अवसर को भांपते हुए वह तूफान के बाद यहां आए और एक बैठक की जिसमें मेरे शामिल होने की वह उम्मीद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उनके पास मोदी के साथ फोटो खिंचवाने का समय नहीं है। उन्होंने सवाल उठाया जब तूफान आया तो आप कहां थे। मैं वहां मौजूद थी। जब तूफान की चुनौती थी तो आप दिल्ली में थे।

PunjabKesari

एक्सपारी प्राइम मिनिस्टर हैं पीएम मोदी
मुख्यमंत्री ने कहा, आप अब यहां आते हैं और मुख्य सचिव से मुलाकात करके बैठक के लिए कहते हैं। मुझे (मुख्यमंत्री) दरकिनार करते हैं जिसके तहत मुख्य सचिव काम करते हैं। उन्होंने कहा, मुझे आपके साथ फोटो नहीं खिंचवाने हैं। जब वास्तव में आपको मदद करनी चाहिए थी, आप नहीं थे। 2012, 2015 और 2017 और कई अन्य समय पर बाढ़ के दौरान आपने किसी भी तरह की आर्थिक मदद नहीं की और अब झूठी उदारता दिखाने लिए यहां आए हैं। मैं आपसे धन नहीं चाहती। उन्होंने कहा, और वैसे भी प्रधानमंत्री पैसा कैसे देंगे। उनका कार्यकाल खत्म हो चुका है। इसलिए वह एक एक्सपारी प्राइम मिनिस्टर’ है। उनके पास धन देने का अधिकार नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा, वह यहां आते है और लोगों को बताते है कि तृणमूल 10 सीटें भी नहीं जीत सकती। मैं कहती हूं यह आप को 10 सीटें नहीं मिलेगी। हम 42 में से 42सीटें जीतेंगे।

PunjabKesari

गुजरात का सीएम रहते हुए मोदी ने भड़काए थे दंगे
बनर्जी ने कहा, लोग महान नेताओं और महान लोगों से नहीं डरते। लेकिन लोग मोदी से डरते हैं, क्योंकि गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने दंगे भड़काए थे। उन्होंने हर जगह लोगों के अधिकारों को छीना है। इसलिए लोगों को उनसे डर लगता है। उन्होंने कहा कि पांच वर्ष पहले नरेंद्र मोदी ने लोगों से वोट मांगे थे और बदले में सबको 15 लाख रुपए देने का वादा किया था। उन्होंने कहा था कि नोटबंदी से काले धन का खात्मा होगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। परिणाम स्वरूप लोगों ने नौकरियां खो दी हैं। अगर मोदी सत्ता में वापस आते हैं तो बैंकों में लोगों की जो भी बचत हैं, उसे वह खा जाएंगे। यहां पर्याप्त बैंक भी नहीं हैं। हमारी सरकार को सहकारी बैंकों की मदद से काम करना है। उन्होंने कहा कि तेल, रसोई गैस, केबल टीवी के शुल्क में भारी बढोत्तरी की गयी है। पिछले कुछ वर्षो में 12 हजार किसान आत्महत्या कर चुके हैं। क्या ये ही अच्छे दिन हैं। नोटबंदी से डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ गए और लोगों को अपनी नौकरियां गवानी पड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here