पश्चिम बंगाल: आसनसोल में फिर भिड़े बीजेपी-TMC कार्यकर्ता, पुलिस का लाठीचार्ज

0
103

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टीएमसी के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है। शुक्रवार को भी आसनसोल में तृणमूल कांग्रेस (TMC) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कार्यकर्ताओं के बीच कथित तौर पर झड़प हुई। पुलिस ने यहां भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज का सहारा लिया। झड़प के लिए 13 भाजपा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया था। कट मनी के मसले पर आसनसोल नगर निगम कार्यालय के बाहर बीजेपी द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा था।

आसनसोल के मेयर और टीएमसी नेता जे तिवारी ने कहा, ‘वे हमला करने के इरादे से आए थे, लेकिन निगम के गेट को छूने का भी प्रबंध नहीं कर सके। बाबुल सुप्रियो अगर आप भाजपा के बंदर हैं तो हम आसनसोल में आपके लिए पिंजरा तैयार कर चुके हैं, हम बंदरों को कैद में रखने की क्षमता रखते हैं।

पुलिस की मौजूदगी में दोनों पक्षों के बीच ये हिंसा चलती रही। बाद में पुलिस ने हिंसा को शांत करने के लिए लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले दागे। भाजपा कार्यकर्ताओं ने बैरिकेड्स तोड़कर कानून का उल्लंघन किया और नगर निगम के भवन में घुसने की कोशिश की। भाजपा कार्यकर्ताओं ने पथराव भी किया जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले दागे। 

शुक्रवार को बर्धवान में भी टीएमसी और भाजपा समर्थकों के बीच हुई झड़प हुई, जिसमें दो लोग घायल हो गए। घायल को बर्धवान मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में पहुंचाया गया।

आसनसोल भाजपा का गढ़ है और लोकसभा के प्रमुख क्षेत्रों में से एक है। यहां से केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो सांसद के रूप में 1.97 लाख से अधिक के अंतर से जीते। लोकसभा चुनावों में भाजपा को अप्रत्याशित सफलता हासिल हुई और टीएमसी की सीटें 34 से घटकर 22 पर आ गईं। उसके बाद से राज्य में आए दिन हिंसा की खबरें आने लगीं। कभी टीएमसी कार्यकर्ता को गोली मारी गई, तो कभी भाजपा कार्यकर्ता को। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here