हनी सिंह के खिलाफ शिकायत करने पर मुझे धमकी भरी कॉल मिल रही है: मनीषा गुलाटी

0
26

चंडीगढ़ः पंजाब राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने बुधवार को दावा किया कि रैपर हनी सिंह के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के बाद उन्हें धमकी भरी कॉल मिल रही है और सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक संदेश भेजे जा रहे है।

PunjabKesari



गुलाटी ने हनी के एक नए गाने में महिलाओं के खिलाफ अश्लील शब्दों के इस्तेमाल के आरोप को लेकर रैपर के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी। पंजाब पुलिस ने हनी सिंह और निर्माता भूषण कुमार के खिलाफ एक गीत “मखना”में अश्लील शब्दों के इस्तेमाल के आरोप में मामला दर्ज किया था। गुलाटी ने यहा पत्रकारों से कहा, ‘‘मुझे यो यो हनी सिंह के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए धमकी भरे कॉल किए जा रहे है और ट्विटर हैंडल पर अपमानजनक संदेश भेजे जा रहे हैं।” उन्होंने कहा, ‘‘मैं किसी से डरने वाली नहीं हूं। मैं इस तरह के मुद्दों पर अपनी आवाज ऐसे ही उठाती रहूंगी।” गुलाटी ने बताया कि उन्होंने पुलिस को इस संबंध में जानकारी दी है। इससे पहले गुलाटी ने इस बारे में राज्य के गृह सचिव, पंजाब के पुलिस महानिदेशक और पुलिस महानिरीक्षक (अपराध) को पत्र लिखकर गीत में आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करने के लिए गायक के खिलाफ उचित कार्रवाई किये जाने की मांग की थी।

पुलिस ने बताया कि हनी सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 294 (अश्लील गाने व कृत्य के लिए दंड) और धारा 509 (किसी स्त्री की लज्जाभंग के आशय से कोई शब्द कहना, भंगिमा बनाना और कार्य करना) के तहत मामला दर्ज किया गया हैं। इसके अलावा सूचना तकनीकी अधिनियम, 2000 की धारा 67 और महिलाओं के अश्लील चित्रण (निषेध) अधिनियम, 1986 की उचित धाराओं के अंतर्गत भी रैपर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया हैं। गुलाटी ने कहा कि उन्होंने पुलिस से हनी सिंह को जल्द से जल्द गिरफ्तार किये जाने का भी आग्रह किया था। उन्होंने कहा, “महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करने वाले हनी सिंह जैसे गायकों के लिए यह एक सबक है।” उन्होंने कहा, “यदि वह (हनी सिंह) जमानत के लिए आवेदन करते हैं तो हम इसका विरोध करेंगे।” गुलाटी ने कहा कि वह मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से अश्लील गीतों पर निगरानी रखने के लिए राज्य का एक अपना सेंसर बोर्ड गठित किये जाने का अनुरोध करेंगी।

PunjabKesari

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here