बंगाल में तट से टकराया Cyclone ‘बुलबुल’, अगले कुछ घंटों में यहां आ सकता है आंधी-तूफान

0
75

प्रचंड चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ ने पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्र पर अपनी दस्तक दे दी है और इसने खतरनाक रूप धारण कर लिया है, भारतीय मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल 0230 बजे से चक्रवात का दबाव सुंदरबन नेशनल पार्क से 12 किमी दक्षिण पश्चिम की ओर पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तटीय इलाकों पर बना हुआ है, जिसके कारण प्रभावित इलाके में काफी बारिश हो रही है और आने वाले 6-8 घंटे में भारी बारिश की आशंका है।

बंगाल में तट से टकराया Cyclone ‘बुलबुल

ओडिशा के तटीय इलाके भी इसकी चपेट में आ सकते हैं, विभाग ने कहा है कि तटीय बांग्लादेश और इससे सटे दक्षिण और उत्तर 24 परगना जिले तक पहुंचते-पहुंचते तूफान कमजोर पड़ सकता है, तूफान के मद्देनजर अलर्ट जारी करते हुए मछुआरों को तट पर लौटने और अगले आदेश तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

पूरा इलाके भारी बारिश की गिरफ्त में…

भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि कोलकाता में भी 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं और इसे 70 किलोमीटर प्रति घंटे होने की आशंका है, पूरा इलाके भारी बारिश की गिरफ्त में है तो वहीं ‘बुलबुल’ तूफान की वजह से हो रही बारिश के कारण अब तक एक-एक मौत पश्चिम बंगाल और ओडिशा में हुई है, खास बात ये है कि चक्रवात ‘बुलबुल’ भारत में इस साल सातवां साइक्लोन है, साल की शुरुआत बंगाल की खाड़ी में चक्रवात ‘पबुक’ के साथ हुई थी और अप्रैल में ‘फानी’ ने तबाही मचाई थी।

अगले 24 घंटों के दौरान यहां आ सकता है तूफान

जबकि स्काईमेट के मुताबिक चक्रवाती तूफान बुलबुल पिछले 24 घंटों के दौरान ओडिशा और गंगीय पश्चिम बंगाल के तटीय भागों में मौसम सक्रिय रहा। इस दौरान पारादीप, चंदबली और बालासोर में मूसलाधार वर्षा रिकॉर्ड की गई है तो वहीं अगले 24 घंटों के दौरान चक्रवात बुलबुल की वजह से उत्तरी तटीय ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों के दक्षिणी भागों में मूसलाधार वर्षा हो सकती है। उत्तरी तटीय ओडिशा, दक्षिण तटीय पश्चिम बंगाल में कुछ स्थानों पर 100-120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं भी चल सकती हैं और तूफान आ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here