केजरीवाल सरकार को राहत, मेट्रो में महिलाओं के मुफ्त सफर के खिलाफ याचिका खारिज

0
83

दिल्ली उच्च न्यायालय ने मेट्रो में महिलाओं के लिये मुफ्त सफर के आप सरकार के प्रस्ताव को चुनौती देने वाली याचिका बुधवार को खारिज कर दी। मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति सी हरि शंकर ने याचिका को सुनने से यह कहकर इनकार कर दिया कि इसमें कोई दम नहीं है। 

PunjabKesari

पीठ ने याचिकाकर्ता पर भी 10,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया। अदालत ने याचिकाकर्ता की उस अपील को भी खारिज कर दिया जिसमें किराया कम करने और टिकट की कीमत मौजूदा छह स्लैब के बजाये इसे 15 स्लैब में करने का अनुरोध किया गया था। 

PunjabKesari

पीठ ने कहा कि किराया तय करना वैधानिक प्रावधान है और यह लागत समेत कई कारकों पर निर्भर करता है जिसे एक जनहित याचिका में निर्धारित नहीं किया जा सकता। बता दें कि आम आदमी पार्टी की सरकार महिलाओं को डीटीसी बसों और मेट्रो में मुफ्त सफर की स्कीम देने की तैयारी पर विचार कर रही है। हालांकि विपक्ष महिलाओं को मुफ्त सफर की योजना को लेकर कई सवाल खड़े कर रहा है। 

PunjabKesari

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here