महाराष्‍ट्र में संशय बरकरार, सरकार बनेगी या लगेगा राष्‍ट्रपति शासन

0
67

महाराष्‍ट्र में आज सरकार बनाने का आखिरी दिन है। भाजपा और शिवसेना में मुख्यमंत्री पद पर रजामंदी नहीं बन पा रही है। ऐसे में यह सवाल उठ रहा है कि आज सरकार का गठन होगा या फिर राज्य में राष्‍ट्रपति शासन लग जाएगा।

महाराष्‍ट्र में भाजपा के चुनाव प्रभारी भुपेंद्र यादव और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आज मुंबई पहुंच रहे हैं। उन्होंने कल रात भाजपा अध्यक्ष ‍अमित शाह से मुलाकात की थी। वे आज महाराष्‍ट्र कोर कमेटी की बैठक बुला सकते हैं। इसमें सरकार बनाने की संभावनाओं पर विचार होगा। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि संविधान के हिसाब से देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना होगा। अगर राज्य में राष्‍ट्रपति शासन लगता है तो यह लोकतंत्र का अपमान होगा। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह दिल्ली के रास्ते महाराष्‍ट्र की सत्ता हथियाना चाहते हैं। राउत ने ट्वीट कर कहा कि ‘गीता का संदेश- न दैन्यं न पलायनम् अर्थात कोई दीनता नहीं चाहिए, चुनौतियों से भागना नहीं, बल्कि जूझना जरूरी है।’ इस बीच कांग्रेस नेता हुसैन दलवई ने कहा कि सभी कांग्रेस विधायक एक साथ है। कोई भी विधायक पार्टी नहीं छोड़ेगा और सभी कांग्रेस हाई कमान के आदेश का पालन करेंगे। हम राज्य में भाजपा की सरकार नहीं बनने देंगे, NCP से हमारा गठबंधन है और वो हमारे साथ है। लोगों ने हमें महाराष्‍ट्र को बचाने के लिए वोट दिया है। उल्लेखनीय है कि राज्य में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। भाजपा और शिवसेना गठबंधन को सरकार चलाने के लिए जनता ने बहुमत दिया तो दोनों ही दलों में मुख्यमंत्री पद को लेकर जंग छिड़ गई।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here