दूरसंचार में तहलका मचाने के बाद रियल एस्टेट में बड़ा धमाका करने जा रहे हैं मुकेश अंबानी

0
104

रिलायंस जियो लॉन्च करके टेलीकॉम इंडस्ट्री में तहलका मचाने वाले मुकेश अंबानी अब रियल एस्टेट में भी कुछ ऐसा ही धमाका करने जा रहे हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने मुंबई के निकट एक विश्वस्तरीय मेगासिटी तैयार करने का ब्लूप्रिंट लगभग तैयार कर लिया है। उम्मीद है कि आने वाले 10 वर्षों में इस प्रोजेक्ट में 75 अरब डॉलर (5.22 लाख करोड़ रुपए) का निवेश किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट की खास बात यह है कि रिलायंस न सिर्फ इस प्रोजेक्ट को डेवलप करेगी, बल्कि इस शहर के प्रशासन पर पूरी तरह रिलायंस का कंट्रोल होगा। इससे प्रोजेक्ट में ब्यूरोक्रेसी और लाल-फीताशाही का दखल नहीं होगा।

PunjabKesari

रियल एस्टेट की बदलेगी तस्वीर 
अंबानी अपनी इस महत्वाकांक्षी परियोजना को बेहद व्यापक स्तर पर लॉन्च कर सकते हैं, जैसा पहले कभी नहीं देखा गया होगा। विश्लेषकों का कहना है कि रियल एस्टेट के क्षेत्र पर इस प्रॉजेक्ट का वही असर हो सकता है, जैसा दूरसंचार क्षेत्र पर जियो की वजह से हुआ। कुल मिलाकर, रिलायंस का यह प्रॉजेक्ट भारत में नई इबारत लिख सकता है, क्योंकि समस्त शहरी बुनियादी ढांचे की जो तस्वीर है, उसे यह पूरी तरह बदल सकता है।

PunjabKesari

कम होगी मकानों की कीमत 
रिपोर्ट ने रियल एस्टेट के एक शीर्ष विश्लेषक का हवाला देते हुए कहा है कि इस शहर के अस्तित्व में आने के बाद मुंबई की तस्वीर पूरी तरह बदल सकती है। उन्होंने कहा कि नया शहर रिवर्स माइग्रेशन का कारण बन सकता है, क्योंकि इसकी कीमतें मुंबई के रियल एस्टेट कंपनियों द्वारा बेचे जा रहे मकानों की तुलना में काफी कम होगी।

PunjabKesari

रिलायंस ने किया है 2,180 करोड़ रुपए का शुरुआती निवेश
नवी मुंबई स्पेशल इकोनॉमिक जोन (NMSEZ) के पास 4,300 एकड़ प्राइम जमीन है, जो जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट और अंडर कंस्ट्रक्शन नए एयरपोर्ट से कनेक्टिड है। इस साल 7 मार्च, को रिलायंस की एक सहयोगी कंपनी ने NMSEZ के साथ मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (MoU) साइन किया है। इस समझौता पत्र के तहत रिलायंस ने 2,180 करोड़ रुपए का शुरुआती निवेश करके शहर डेवपल करने के लिए जमीन लीज पर ले ली है। RIL ने मार्च में महाराष्ट्र सरकार के साथ MoU सइन किया था, जिसके तहत एक ग्लोबल इकोनॉमिक हब तैयार किया जाएगा, जिसमें ग्लोबल पार्टनरशिप से वर्ल्ड क्लास इंटीग्रेटिड डिजिटल सर्विसेज मिलेंगी।

सिंगापुर की तर्ज पर तैयार होगी सिटी
2005 में सिंगापुर सरकार के Jurong Town Corporation को इस प्रोजेक्ट ये जोड़ा गया था। इस कंपनी ने सिंगापुर को डिजायन किया था। इस प्राेजेक्ट को तैयार करने में इसी कंपनी के मॉडल काे फॉलो किया जाएगा। तैयार होने पर इस प्रोजेक्ट में तकरीबन 5 लाख लोग और हजारों बिजनेस एंटरप्राइज को जगह मिलेगी। सूत्रों के मुताबिक यह प्रोजेक्ट रिलायंस इंडस्ट्री की ओर से शुरू किया गया सबसे बड़ा प्रोजेक्ट होगा, जिसमें प्राेजेक्ट का हर कंपाेनेंट अपने आप में एक प्राेजेक्ट होगा। रियल एस्टेट विश्लेषकों के मुताबिक अगर किसी शहर को सिंगापुर की तरह डेवलप किया जाए और मेंटेन किया जाए तो वह हमेशा डिमांड में रहेगा।

साउथ मुंबई को देगा टक्कर
रियल एस्टेट के सूत्रों के मुताबिक यह नया शहर दक्षिण मुंबई को टक्कर देगा, जहां रियल एस्टेट के दाम 80,000 रुपए से लेकर 1.2 लाख रुपए प्रति वर्ग फुट तक पहुंच गए हैं लेकिन इंफ्रास्ट्रक्चर अभी भी स्टैंडर्ड से कम दर्जे का है। सीधी रोड कनेक्टिविटी के साथ यह शहर मुंबई को बदल के रख देगा। लोग मुंबई से बाहर निकलकर इस शहर में बसना शुरू कर सकते हैं। इस शहर के दाम मुंबई से कम होने की उम्मीद हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here