मानसून की पहली बारिश से चार डिग्री गिरा तापमान, जानिए- अगले सप्ताह कैसा रहेगा मौसम

0
55

लंबे इंतजार के बाद आखिरकार शुक्रवार को मानसून ने दिल्ली-एनसीआर में दस्तक दे दी। पहले ही दिन दिल्ली में ज्यादातर जगह अच्छी बारिश हुई। बारिश से दिल्लीवासियों को गर्मी से भी राहत मिली। मौसम विभाग का कहना है कि दस जुलाई तक दिल्ली में ऐसा ही मौसम बना रहेगा और रुक-रुककर बारिश होती रहेगी।

गुरुवार को जो अधिकतम तापमान 38.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया था, वह मानूसन की पहली बारिश के बाद शुक्रवार को 34.2 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। यह सामान्य से दो डिग्री कम है, वहीं न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 26.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। नमी का स्तर 80 से फीसद रहा। सुबह साढ़े 8 बजे तक करीब 1.4 मि.मी. बारिश दर्ज की गई, जबकि शाम साढ़े 5 बजे तक 25 मि.मी. बारिश दर्ज की गई। लोदी रोड क्षेत्र में सबसे अधिक 27 मि.मी. बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग का कहना है कि तापमान में और गिरावट होने के आसार हैं।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार शनिवार को भी मध्यम स्तर की बारिश हो सकती है। रविवार को हल्की बारिश, जबकि सोमवार को भारी बारिश होने का अनुमान है। सोमवार के लिए ओरेंज अलर्ट भी जारी कर दिया है। इसके बाद फिर बृहस्पतिवार तक दिल्ली में हल्की बारिश हो सकती है।

अधिकारी 30 मिनट में दूर करें जलभराव की समस्या- केजरीवाल
मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अधिकारियों को शुक्रवार को निर्देश दिए कि वे जल भराव की समस्या संबंधी शिकायत मिलने पर इसका समाधान 30 मिनट में करें। बारिश से शुक्रवार को राजधानी के कई हिस्सों में भारी जलभराव हो गया। दक्षिण दिल्ली में भारी ट्रैफिक जाम रहा। इसे लेकर मुख्यमंत्री ने दिल्ली सचिवालय में बैठक बुलाई। जिसमें विभागों द्वारा गाद हटाने संबंधी पूरी रिपोर्ट अभी तक भी मुख्यमंत्री को सौंपी ही नहीं गई। इस पर मुख्यमंत्री ने सभी संबंधित विभाग प्रमुखों की कड़ी फटकार लगाई।

मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को लोक निर्माण विभाग, बाढ़ व सिंचाई विभाग, शहरी विकास विभाग व मंडलायुक्त की बैठक के साथ जल भराव के कारणों की समीक्षा की। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने दिल्ली सरकार को 277 ऐसे स्थानों की सूची सौंपी है जहां भारी जल जमाव संभव है। इनमें से 157 स्थानों पर स्थिति ज्यादा खराब है। इनमें कई स्थानों पर जलभराव से वाहनों का निकलना मुश्किल हो जाता है। लोक निर्माण विभाग ने आश्वस्त किया है कि उनके पास पर्याप्त पंप हैं जो जलभराव को कुछ ही मिनट में खत्म कर सकते हैं। लोक निर्माण विभाग को जनता के लिए टोल फ्री नंबर जारी करने कहा गया है ताकि लोग जल भराव संबंधी सूचना जल्द दे सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here