जेटली का पित्रोदा-राहुल पर तंज- अगर गुरु ऐसा है तो शिष्य कैसा होगा

0
45

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादी शिविर पर भारतीय वायु सेना की कार्रवाई के बारे में कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि जो लोग देश की सुरक्षा और लोगों के जज्बात नहीं समझते वही इस प्रकार के बयान देते हैं। वित्त मंत्री जेटली ने भाजपा मुख्यालय में संवाददाताओं के एक सवाल पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिए बिना कहा ‘ जिसका गुरु ऐसा है उसका शिष्य कैसा होगा। ’ उन्होंने कहा कि देश तीन दशक से आतंकवाद का मुकाबला कर रहा और मोदी सरकार ने इस मुद्दे पर नीति बदली है। पहले हम पाकिस्तान की सीमा से आने वाले आतंकवादियों को रोकते थे फिर भी साल में एक दो घटनायें हो जाती थी । अब जहां आतंकवादी है वहीं हम जाते हैं।

PunjabKesari

फ्रंट फुट पर रह कर जीता जाता है मैच
जेटली ने कहा कि आतंकवादियों के खिलाफ पहले सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा की घटना के बाद एयर स्ट्राइक बेहद सफल रहे और इसमें शामिल सभी सुरक्षाकर्मी सुरक्षित रहे। इन दोनों अभियानों मेंं जरुरत के हिसाब से केवल आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया गया । इसका पूरी दुनिया ने सर्मथन किया यहां तक कि मुस्लिम देशों के संगठन ने भी इसका विरोध नहीं किया ।  जेटली ने कहा ‘‘ मैच फ्रंट फुट पर रह कर जीता जाता है बैक पुट पर नहीं। कांग्रेस के किसी नेता ने पहली बार ऐसा बयान नहीं दिया है बल्कि बार बार इस प्रकार के बयान आ रहे हैं। ’ उल्लेखनीय है कि पित्रोदा ने बालाकोट एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकवादियों की संख्या को लेकर प्रमाण देने तथा कुछ अन्य सवाल उठाए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here