साक्षी और अजितेश की शादी वैध, दोनों को दी जाए सुरक्षा: हाईकोर्ट

0
84

प्रयागराज: बरेली के बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी ने पिता से जान को खतरा बताते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की, जिस पर आज सुनवाई हुई। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने साक्षी और अजितेश द्वारा पेश किए गए शादी के अभिलेखों को सही मानते हुए शादी को वैध करार दिया है। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने शादी के फर्जी प्रमाणपत्र होने से भी साफ इनकार कर दिया है। हाईकोर्ट ने दंपति की जान को खतरा महसूस करते हुए सुरक्षा देने की बात कही है। 

कोर्ट रूम के बाहर अजितेश के साथ मारपीट 
ताजा मिली खबरों के मुताबिक कोर्ट रूम के बाहर अजितेश के साथ मारपीट हुई है। लेकिन साक्षी ने अजितेश से लिपटकर बचा लिया। मारपीट की घटना के बाद जज ने पुलिस अधिकारियों को तलब कर लिया और कड़ी फटकार लगाई। जज ने विधायक पिता को भी फटकार लगाई है। वहीं एसएसपी ने अपना बयान जारी करते हुए कहा है कि इन दोनों के साथ कोई भी घटना घटित नहीं हुई है। 

उल्लेखनीय है कि, बरेली की बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी ने दलित युवक अजितेश कुमार के साथ वैदिक हिंदू रीति-रिवाज से शादी करने का वीडियो बुधवार को वायरल किया। उसके बाद जारी एक अन्य वीडियो में उसने बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई कि उसे उसके पिता और विधायक राजेश मिश्रा, भाई विक्की और पिता के एक सहयोगी से जान का खतरा है। ऐसे में उसे और उसके पति को सुरक्षा दी जाए।

साक्षी ने पिता पर लगाए गंभीर आरोप
साक्षी ने आरोप लगाया कि ये सभी लोग मिलकर उसकी और उसके पति की हत्या करना चाहते हैं। साक्षी ने बरेली के सांसद, विधायकों और मंत्रियों से अपील की है कि वह उसके पिता, भाई और पिता के सहयोगी की मदद न करें। साक्षी ने वायरल वीडियो के माध्यम से अपने पिता से कहा है कि उसे चैन से रहने दिया जाए और वह चैन से राजनीति करें। साक्षी ने यह भी धमकी दी है कि यदि उसकी और पति की हत्या की गई तो वह उन्हें भी फंसा देगी।

डीजीपी ने दिए साक्षी और अजितेश को सुरक्षा देने के निर्देश
बरेली के डीआईजी आर के पांडेय ने बताया कि साक्षी मिश्रा की दलित युवक अजितेश कुमार से विवाह की सूचना वायरल वीडियो से मिली है। मामला संज्ञान में आने पर उन्होंने बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया है कि साक्षी और अजितेश को सुरक्षा दी जाए। दंपति ने अभी तक यह सूचित नहीं किया है कि उनका पता ठिकाना कहां है। उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस कहां भेजी जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here