OIC की बैठक में बोलीं सुषमा, आतंक को पनाह देने वाले देशों को समझाना जरूरी

0
340

अबू धाबी: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस्लामिक सहयोग संगठन(ओआईसी) देशों के विदेश मंत्रियों के सम्मेलन में भाग लेते हुए बैठक को संबोधन करते हुए कहा कि भारत एक मजबूत अर्थव्यवस्था वाला देश है। उन्होंने कहा कि हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है, किसी धर्म के नहीं। उन्होंने कहा कि इस्लाम शांति सिखाता है। सुषमा ने कहा कि आतंकवाद में न जाने कितनी जिंदगियां तबाह हो जाती हैं। उन्होंने कहा कि भारत में हर धर्म और संस्कृति का सम्मान है। विदेश मंत्री ने कहा कि आतंक को पनाह देने वाले देशों को समझाना होगा और इसका ठोस हल निकालना जरूरी। आतंकवाद ने अपने पैर काफी फैला लिए हैं जिनको रोकना होगा। आतंकवाद किसी एक देश के लिए नहीं पूरी दुनिया के लिए खतरा है।
PunjabKesari

बता दें कि सुषमा गुरुवार रात संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की राजधानी अबू धाबी पहुंचीं। भारत को ऐसे मौके पर यह मंच मिला है जब वह पुलवामा हमले के बाद आतंकवाद के मुद्दे को लेकर पाकिस्तान को वैश्विक स्तर पर अलग-थलग करने के अभियान में जुटा है। वहीं पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का कहना है कि मैं विदेश मंत्रियों की काउंसिल बैठक में शिरकत नहीं करूंगा, यह उसूलों की बात है, क्योंकि (भारत की विदेश मंत्री) सुषमा स्वराज को ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’ के रूप में न्योता दिया गया है।
PunjabKesari
दूसरी तरफ पाकिस्तान के आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त होने के सबूतों के साथ भारत के आतंकवाद के खिलाफ हुंकार भरने की संभावना है। यह पहला मौका है जब 17 देशों के प्रभावशाली समूह ओआईसी के सम्मेलन में भारत बतौर विशिष्ट अतिथि शिरकत कर रहा है। इसके साथ ही स्वराज इस सम्मेलन में भाग लेने वाली पहली भारतीय विदेश मंत्री बन गई हैं।। विदेश विभाग के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट करके यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि स्वराज ओआईसी के 46 वें सत्र के दो दिवसीय सम्मेलन के आरंभिक सत्र में बतौर ‘सम्मानित अतिथि’ शामिल होगीं। कुमार ने हवाई अड्डे पर स्वराज का स्वागत किए जाने की तस्वीर भी पोस्ट की। यूएई के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायेद अल नहयान ने हवाई अड्डे पर भारतीय विदेश मंत्री का जोरदार स्वागत किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here