ब्रिटेन की अदालत ने भगोड़े नीरव मोदी की हिरासत 17 अक्‍टूबर तक बढ़ाई

0
59

लंदन की कोर्ट ने 2 बिलियन डॉलर के पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग केस में भगोड़े नीरव मोदी की रिमांड 17 अक्‍टूबर तक बढ़ा दी है। ब्रिटेन की अदालत में गुरुवार को लंदन जेल में बंद नीरव मोदी की वीडियो कॉलिंक के माध्यम से एक नियमित ओवर-रिमांड सुनवाई के लिए पेश हुआ था।

इससे पहले ब्रिटेन की अदालत के न्यायाधीश तैन इकराम ने 22 अगस्त को सुनवाई में कहा कि, कोई प्रगति नहीं है, मुझे डर है। उन्होंने अदालत के क्लर्क को मई में शुरू होने वाले प्रस्तावित पांच-दिवसीय प्रत्यर्पण परीक्षण की पुष्टि करने के लिए निर्देश दिए थे। प्रत्यर्पण परीक्षण 11 मई 2020 से शुरू होगा।अगले साल फरवरी में प्रत्यर्पण के मुकदमे से पहले इस मामले की सुनवाई होने की भी संभावना है।

ब्रिटेन की जेल में बंद है नीरव

बता दें, भगोड़े नीरव मोदी को दक्षिण-पश्चिम लंदन की वंड्सवर्थ जेल में रखा गया है। यह ब्रिटेन की सबसे भीड़भाड़ वाली जेलों में से एक है। मार्च 2019 में स्कॉटलैंड यार्ड पुलिस ने भारत सरकार के आरोपों के बाद प्रत्यर्पण वारंट के तहत नीरव मोदी को गिरफ्तार किया था, जिसका प्रतिनिधित्व यूके की क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस द्वारा किया जा रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here