उन्नाव पीड़िता के पिता की मांगः हैदराबाद के तरह इन आरोपियों का भी हो एनकाउंटर

0
86

उन्नाव रेप पीड़िता की शुक्रवार देर रात मौत हो जाने के बाद पूरे देश में शोक की लहर छा गई है. वहीं, बेटी की मौत से आहत बेबस पिता ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि जैसे हैदराबाद पुलिस ने एनकाउंटर में रेप के आरोपियों को दौड़ा कर गोली मारी थी. मेरी बेटी के दरिंदों को भी वैसी ही सजा मिलनी चाहिए. उन्होंने सरकार से उन्हें एनकाउंटर या फांसी की सजा देने की मांग की. पीड़ित पिता ने कहा कि मुझे धन का लालच नहीं है. मेरी सिर्फ एक ही मांग है कि मेरी बेटी को मौत के बाद इंसाफ मिले.

वहीं, दूसरी तरफ पीड़िता के भाई ने अपनी बहन के लिए न्याय की मांग करते हुए शनिवार को कहा कि आरोपियों का भी वही हश्र होना चाहिए जो ‘उसकी बहन ने झेला.’ उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘उसने मुझसे मिन्नत की कि भाई मुझे बचा लो.’ उन्होंने कहा, ‘मैंने उससे कहा था कि तुम्हें बचा लिया जाएगा, चिंता मत करो. मैं बहुत दुखी हूं कि मैं उसे बचा नहीं सका.’ वहीं अंतिम संस्कार को लेकर उन्होंने कहा कि अब उसमें जलाने लायक कुछ भी बचा नहीं है, हम शव को अपने गांव ले जाएंगे और वहीं दफनाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अपराधी एनकाउंटर में मारे जाते हैं या फांसी पर लटकाए जाते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्हें जिंदा नहीं रहना चाहिए, यही हम चाहते हैं.

उक्त मामले में कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा उन्नाव में बीते 11 महीने में करीब 90 रेप हुए हैं. सरकार का कर्तव्य होता है कि वह कानून-व्यवस्था को कायम रखे. सरकार को फैसला करना पड़ेगा कि वह महिलाओं के पक्ष में है या फिर अपराधियों के पक्ष में?  उन्होंने कहा कि उन्नाव में जो पिछला मामला हुआ था, उसमें सरकार ने आरोपी की तब तक सुरक्षा की जब तक उस महिला का परिवार खत्म नहीं हो गया. उन्नाव के बाद संभल, मैनपुरी में आपने देखा और अब फिर उन्नाव में गुरुवार को नया मामला हुआ है.प्रियंका गांधी ने कहा मुख्यमंत्री मामलों को देखें और उन्हें मेरा सुझाव है कि वह अपने दफ्तर में एक प्रकोष्ठ बनाएं और हर जिला पुलिस अधीक्षक से कहा जाए कि अगर महिलाओं से संबंधित शिकायत आती है तो मुख्यमंत्री कार्यालय को उसकी सूचना दें और 24 घंटे के अंदर उसका मुकदमा दर्ज कर पीड़िता को सुरक्षा दी जाए.

वहीं, उन्नाव रेप पीड़िता की मौत पर बसपा की प्रमुख मायावती ने दुख जताते हुए ट्वीट के माध्यम से कहा कि जिस उन्नाव रेप पीड़िता को जलाकर मारने की कोशिश की गई, उसकी कल रात दिल्ली में हुई दर्दनाक मौत अति-कष्टदायक है. इस दुख की घड़ी में बीएसपी पीड़ित परिवार के साथ है. यूपी सरकार पीड़ित परिवार को समुचित न्याय दिलाने हेतु शीघ्र ही विशेष पहल करे, यही इंसाफ का तकाजा और जनता की मांग है. मायावती ने रेपिस्टों के लिए फांसी की मांग करते हुए कहा, ‘इस किस्म की दर्दनाक घटनाओं को यूपी सहित पूरे देशभर में रोकने हेतु राज्य सरकारों को चाहिए कि वो लोगों में कानून का खौफ पैदा करे और केंद्र भी ऐसी घटनाओं को मद्देनजर रखते हुए दोषियों को निर्धारित समय के भीतर फांसी की सख्त सजा दिलाने का कानून जरूर बनाए.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here