ईरान के तेल टैंकर में सऊदी अरब के तट के पास बड़ा धमाका; हादसे को आतंकी हमला बताया जा रहा है

0
80

तेहरान। लाल सागर में ईरान के ऑयल टैंकर में धमाका हुआ है, जिसके बाद काफी मात्रा में तेल समुद्र में फैल गया। विश्लेषकों का कहना है कि यह एक आतंकी हमला था। धमाका नेशनल ईरानियन ऑयल कंपनी के टैंकर में हुआ और जहाज आग की लपटों में घिर गया। मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि टैंकर पर दो मिलाइलें दागी गई थीं।धमाके की वजह से भारी नुकसान हुआ और तेल लाल सागर में फैल गया।

चालक दल सुरक्षित था और इस दुर्घटनाग्रस्त जहाज का नाम सैनिटाइज्ड बताया जा रहा है। समाचार एजेंसी ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है। विस्फोट के बारे में सऊदी अरब से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। हालांकि, अभी तक किसी ने भी इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

खाड़ी में तेल के बुनियादी ढांचे पर हाल के महीनों में कई हमले हुए हैं, जो मध्य पूर्व में बढ़ते तनाव को उजागर कर रहे हैं। शुक्रवार की घटना ऐसे समय में सामने आई है, जब इससे पहले अमेरिका ने आरोप लगाया था कि ईरान ने होर्मुज जलडमरू के पास तेल टैंकरों पर हमला किया था। हालांकि, तेहरान ने अमेरिका के इन आरोपों से इनकार किया था।
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले के बाद होर्मुज जलडमरू के पास तेल के टैंकरों पर रहस्यमयी हमले हुए, ईरान ने अमेरिकी सेना का सर्विलांस ड्रोन मार गिराया और मध्य-पूर्व में अन्य घटनाए हुई हैं। सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी आरामको पर 14 सितंबर को हुए ड्रोन और मिसाइल हमले के बाद खाड़ी में तनाव काफी बढ़ गया था। इस हमले के लिए भी अमेरिका ने ईरान को जिम्मेदार बताया था, जबकि तेहरान ने इससे इनकार किया था। उस हमले की जिम्मेदारी हौती विद्रोहियों ने ली थी, जिसकी वजह से वैश्विक तेल के उत्पादन में पांच फीसद की कमी आई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here