2020 रहा है विराट कोहली के क्रिकेट कॅरियर का सबसे बुरा साल, जानेंगे तो आप भी चौंक जाएंगे

0
219

-बिना कोई शतक लगाए वर्ष 2020 को खत्म कर रहे हैं विराट कोहली (Virat Kohli)।
-वनडे (ODI) में शतक लगाने के मामले में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) से मात्र 6 शतक पीछे है कोहली।
-कोहली (Virat Kohli) ने वनडे में सबसे तेज 12000 रन बनाने के सचिन के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा।
-ऑस्ट्रेलिया (australia) के खिलाफ कोहली (Virat Kohli) ने जड़ा वनडे क्रिकेट कॅरियर का 60वां अर्धशतक।

नई दिल्ली। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने जबसे क्रिकेट में डेब्यू किया है लगातार शानदार प्रदर्शन करते आ रहे हैं। फिलहाल वहीं एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जो क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar Records) के शतकों की बराबरी के करीब हैं। लेकिन साल 2020 विराट कोहली के कॅरियर (Kohli’s Cricket Careerr) का सबसे बुरा साल (Bad Year 2020) साबित होने जा रहा है। ऐसा पहली बार होगा जब वह बिना कोई शतक लगाए किसी साल को खत्म कर रहे हो। हालांकि, यह बात अलग है कि इस साल कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के प्रकोप के चलते वे बहुत ज्यादा क्रिकेट नहीं खेल पाए हैं।

2008 में किया वनडे में डेब्यू
गौरतलब है कि कोहली (Kohli) ने वर्ष 2008 में श्रीलंका (Srilanka) के खिलाफ वनडे क्रिकेट में डेब्यू (ODI Debut) किया था। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और एक के बाद एक रिकॉर्ड पे रिकॉर्ड बनाए जा रहे हैं। महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (
Sachin Tendulkar) के नाम वनडे में 49 शतक बनाने का रिकॉर्ड है और कोहली अब तक 43 शतक जड़ चुके हैं। ऐसे वह सचिन की बराबरी करने से मात्र 6 शतक ही दूर हैं। वह वनडे में 60 अर्धशतक लगाने के साथ ही अब तक 12040 रन बना चुके हैं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया 60वां अर्धशतक
32 वर्षीय कोहली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए दूसरे वनडे में शतक से मात्र 11 रन से चूक गए थे, जबकि तीसरे वनडे में 63 रन बनाए और इसी के साथ उन्होंने अपने 60 अर्धशतक पूरे किए।

वनडे में सचिन को पीछे छोड़ा
कोहली ने वनडे में सबसे तेज 12000 रन बनाने के सचिन के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। उन्होंने 251 वनडे की 242वीं पारी में यह मुकाम हासिल किया। इस तरह सचिन का एक और रिकॉर्ड टूट गया। सचिन ने 12000 रन बनाने के लिए 300 पारियां खेली थी। इस लिस्ट में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का नाम तीसरे नंबर पर है। उन्होंने 314 पारियों में इतने ही रन बनाए थे।

2020 में रहा बल्लेबाजी औसत कम
कोहली का 2011 के बाद से पहली बार इस साल बैटिंग औसत कम रहा है। वह 2020 में 47.88 की औसत से रन बना सके हैं जो किसी एक कैलेंडर वर्ष में चौथा सबसे कम औसत है। उन्होंने 2008, 2010 और 2011 में ही वनडे में 50 से कम की औसत से बल्लेबाजी की थी। 2012 और 2019 तक उनका औसत कभी भी 50 से नीचे नहीं रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here