मुफ्त अंडे और शॉपिंग कूपन देकर टीके लगा रहा चीन, अभियान तेज करने को अपनाई तरकीब

0
170

कोरोना वायरस के उत्पत्ति स्थल माने जाने वाले चीन ने अब इस महामारी पर काबू पा लिया है। कम गुणवत्ता वाली वैक्सीन से ही लेकिन वह अपनी एक बड़ी आबादी को टीका लगाने की ओर भी तेजी से बढ़ रहा है लेकिन चीन के नागरिक अब टीका लगाने से बच रहे हैं। टीका लगवाने के लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए चीन ने अब नई-नई तरकीबें खोजनी शुरू कर दी हैं। यहां अब टीका लगवाने वालों को मुफ्त अंडे और शॉपिंग कूपन या फिर किराने के सामान में छूट जैसे ऑफर दिए जा रहे हैं। 

धीमी शुरुआत के बाद अब चीन हर दिन लाखों लोगों को टीका दे रहा है। अकेले 26 मार्च को ही चीन ने एक दिन में 61 लाख टीके दिए थे। एक शीर्ष सरकारी डॉक्टर ने घोषणा की थी कि सरकार का लक्ष्य जून तक देश की 56 करोड़ आबादी को टीका देने का है।

हालांकि, चीन में सबसे बड़ी चुनौती यह है कि कोरोना के मामलों में कमी आने के बाद लोग अब सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। ऐसे में लोग टीका लगवाने से भी बचना चाहते हैं। 

चीन में फिलहाल पांच वैक्सीन इस्तेमाल की जा रही हैं। ये वैक्सीन 50.7 प्रतिशत से लेकर 79.3 प्रतिशत तक असरदार हैं। हालांकि, चीन के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के टॉप इम्यूनोलॉजिस्ट वांग हुआकिंग का कहना है कि चीन अगर हर्ड इम्यूनिटी पाना चाहता है तो उसे अपनी कम से कम 1 अरब आबादी को टीका देना पड़ेगा। 

अप्रैल के शुरुआती डेटा के मुताबिक, चीन में 3.4 करोड़ लोगों को ही टीके की दोनों खुराकें लग पाई हैं। वहीं, 6.5 करोड़ लोगों को अभी टीके की पहली खुराक ही दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here