Happy Birthday Aruna Irani: खास तरह की एक्टिंग के लिए जानी जाती अरुणा ईरानी ने की थी 40 साल की उम्र में इस निर्देशक से शादी

0
215

बॉलीवुड फिल्मों में ऐसी बहुत कम ही हीरोइन रही हैं जिन्होंने फिल्मों के बाद और साथ भी टीवी सीरियल में लगातार काम किया है. इन अभिनत्रियों को महज अपने काम से ही प्यार रहा है. ऐसी ही एक एक्ट्रेस अरुणा ईरानी भी रही हैं. जी हां, आज उनका जन्मदिन है. जहां आज देशभर में उनका जन्मदिन मनाया जा रहा है. एक्ट्रेस ने गजब के निगेटिव किरदार भी निभाते हुए ये दिखा दिया था कि एक्ट्रेस भी एक खलनायक की भूमिका निभा सकती है. जी हां, अरुणा ईरानी ने बॉलीवुड में आज तक कुल 500 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है. तो चलिए उनके जन्मदिन पर जानते हैं उनके जिंदगी के कुछ अनसुने किस्से.

अरुणा ईरानी का जन्म मुंबई में 3 मई 1946 को हुआ था, जहां उन्होंने अपनी फिल्म पहली फिल्म 1961 में आई ‘गंगा जमुना’ से बॉलीवुड में अपना दमदार डेब्यू किया था. जहां 1962 में उन्होंने अपनी फिल्म ‘अनपढ़’ में माला सिन्हा का बचपन का किरदार निभाया था. अपनी इस फिल्म के बाद एक्ट्रेस को इंडस्ट्री में एक अलग पहचान बनाई जिसके बाद उन्होंने कई सारी छोटी फिल्मों में काम किया.

एक्ट्रेस की इन फिल्मों की लिस्ट बहुत लंबी है, जिनमें फर्ज, ‘आया सावन झूम के’ और ‘उपकार’ जैसी तमाम सुपरहिट फिल्में शामिल हैं. इसके बाद 1984 में आई फिल्म ‘पेट प्यार और पाप’ के लिए अरुणा को फिल्मफेयर बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. आपको बता दें, 80 से 90 का दशक अरुणा के नाम रहा, जहां उन्हें हमने कई बड़ी फिल्मों में देखा. ‘बेटा’ फिल्म में निभाया गया उनका निगेटिव किरदार खूब पसंद किया गया. इस फिल्म में इस किरदार के लिए भी उन्हें फिल्मफेयर ने अवॉर्ड से नवाजा गया था.

एक्ट्रेस अपने काम में बहुत अच्छी थीं. उनकी अदाकारी के साथ उनकी दोस्ती बॉलीवुड के हर एक्टर के साथ अच्छी थी. जहां अरुणा का नाम कॉमेडियन महमूद से भी खूब जुड़ता था. एक इंटरव्यू में अरुणा ईरानी ने महमूद से अपने इन रिश्तों पर खुलकर बात की थी. उनहोंने कहा – हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त थे, यही नहीं दोस्त से भी ज्यादा अच्छे थे. शायद आप सभी इसे आकर्षण, दोस्ती या कुछ और भी कह सकते हैं. लेकिन हमने शादी कभी नहीं की, क्योंकि हम कभी प्यार में नहीं थे. लेकिन अगर हमें प्यार होता तो हम जरूर शादी भी करते. लेकिन अब मैं अपने बीते हुए कल को पूरी तरह से भूल चुकी हूं.

उम्र के 40वें पढ़ाव में आकर अरुणा ने शादी करने का फैसला लिया, और उन्होंने निर्देशक कुक्कू कोहली से शादी कर ली. जहां निर्देशक कुक्कू कोहली ने अजय देवगन की पहली फिल्म ‘फूल और कांटे’ में उन्हें ब्रेक भी दिया था.

अरुणा ने 2000 के बाद फिल्मों में काम करना बिलकुल ही कम कर दिया था. जिसके बाद उन्होंने टीवी की दुनिया में कदम रखा और उन्होंने यहां जमकर काम किया. एक्ट्रेस ने 2006 से 2007 तक ‘कहानी घर घर की’ में काम किया. वहीं इस बाद उन्होंने 2009 से 2011 ‘झांसी की रानी’ में काम किया..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here