दिल्ली के AIIMS में सबसे पहले इस शख्स को लगा टीका

0
59

दिल्ली के AIIMS (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) में एक सफाईकर्मी को सबसे पहले कोरोना का टीका लगाया गया है. इस मौके पर वहां केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन और AIIMS के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया भी मौजूद थे. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन के साथ ही देश में कोरोना टीकाकरण की शुरुआत हो गई। राजधानी दिल्ली में ऐम्स के आठवीं मंजिल पर एक सफाईकर्मी मनीष कुमार को देश का पहला टीका लगाया गया। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के साथ ही ऐम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया भी मौजूद रहे। इसके बाद डॉ. गुलेरिया ने भी टीका लगवाया। इसके साथ ही देश भर में करीब 100 स्थानों पर टीकाकरण की शुरुआत हो गई। आज करीब 3 लाख लोगों को टीके लगाए जाएंगे। पहले चरण में कुल 3 करोड़ लोगों को टीके लगाए जाएंगे। इनमें अधिकांश स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंट लाइन वर्कर्स शामिल हैं। सरकार ने पूरा भरोसा दिलाया है कि भारत में बनीं दोनों वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित हैं।

डॉ. गुलेरिया देश के सबसे बड़े स्वास्थ्य संस्थान ऐम्स के निदेशक हैं। उन्होंने टीका लगवाकर देश को संदेश दिया कि ये वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है और लोगों को किसी तरह की अफवाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। बता दें, यहां भारत बायोटेक की बनाई कोवैक्सीन लगाई गई है। जहां जहां केंद्र सरकार टीकाकरण केंद्र मैनेज रही है, वहां कोवैक्सीन ही लगाई गई है।

ऐम्स में टीकाकरण के बाद डॉ. हर्षवर्धन ने खुशी जाहिर की और टीकाकरण अभियान में जुटे लोगों की तारीफ की। उन्होंने कहा कि यह टीकाकरण अभियान संजीवनी का काम करेगी। इससे पहले भारत पोलियो को भी जड़ से खत्म कर चुका है और अब कोरोना को भी खत्म कर देंगे। उन्होंने अपील की कि लोग किसी तरह की अफवाह पर ध्यान न दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here