महाराष्ट: आपदा प्रबंधन मंत्री ने रखा 3 हफ्ते के सख्त लॉकडाउन का प्रस्ताव, कल CM लेंगे फैसला

0
187
A commuter walks on a deserted street during a day long lockdown amid growing concerns of coronavirus, in New Delhi, India, Sunday, March 22, 2020. India is observing a 14-hour "people's curfew" called by Prime Minister Narendra Modi in order to stem the rising coronavirus caseload in the country of 1.3 billion. For most people, the new coronavirus causes only mild or moderate symptoms. For some it can cause more severe illness. (AP Photo/Manish Swarup)

मुंबई: पूरा देश कोरोना महामारी की दूसरी लहर की चपेट में आ गया है। पिछली बार की तरह इस बार भी महाराष्ट्र सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है, जहां पर रोजाना के मरीजों की संख्या 50 हजार से ज्यादा है। इस बीच खबर आ रही थी कि महाराष्ट्र सरकार जल्द ही लॉकडाउन जैसा कड़ा कदम उठा सकती है, जिस पर अब वहां के आपदा प्रबंधन मंत्री विजय वडेट्टीवार का बयान सामने आया है।

मंत्री विजय वडेट्टीवार ने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए उन्होंने त्योहारों के दौरान पूर्ण लॉकडाउन का प्रस्ताव दिया है। मौजूदा वक्त के हालात से निपटने और संक्रमण को रोकने के लिए सभी चीजों को बंद करना महत्वपूर्ण है।

मंत्री के मुताबिक वर्चुअल मीटिंग के दौरान उन्होंने अपने तीन हफ्ते के लॉकडाउन प्रस्ताव को विस्तार से मुख्यमंत्री के सामने बताया था। शनिवार को सीएम खुद इस पर अंतिम फैसला लेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि अब रोजाना राज्य में 50-60 हजार मामले सामने आ रहे हैं। अगर ऐसे ही चलता रहा तो जल्द ही राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 10 लाख के पार पहुंच जाएगी। अगर वायरस के ट्रांसमिशन को तोड़ना है तो लॉकडाउन जरूरी है। अभी बंद के दौरान भी मंडियों में भीड़ देखी जा सकती है। ऐसे में उन्हें लगता है कि इस बारे में जल्द निर्णय लेने की जरूरत है।

376 लोगों की मौत

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को महाराष्ट्र में 56286 नए मामले सामने आए। इसके अलावा 376 मरीजों की मौत हुई है। जिस वजह से कुल मरीजों की संख्या 32,29,547 के पार पहुंच गई है। हालात पर नियंत्रण पाने के लिए राज्य सरकारी की ओर से तेजी से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here