Coronavirus updates in India: महाराष्‍ट्र में खत्‍म हो रही वैक्‍सीन, केंद्र से मांगी टीकों की डोज

0
139

नई दिल्‍ली : देश में कोरोना वायरस संक्रमण की बेकाबू रफ्तार पुराने सभी रिकॉर्ड तोड़ रही है। बुधवार को भी यही हुआ, जब यहां कोरोना वायरस संक्रमण के 24 घंटों में 1.15 लाख से अधिक केस दर्ज किए गए। यह एक दिन में संक्रमण का सबसे बड़ा आंकड़ा है। संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्‍ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (AIIMS) ने सामान्‍य OPD सर्विस फिलहाल बंद करने का फैसला लिया है। बिहार, झारखंड सहित कई राज्‍यों में कोरोना को लेकर नए गाइडलाइंस जारी किए गए हैं, यहां जानें ताजा अपडेट्स :

महाराष्‍ट्र में कम पड़ रही वैक्‍सीन

महाराष्‍ट्र में कोविड-19 की वैक्‍सीन कम पड़ती जा रही है। यहां संक्रमण की बढ़ती रफ्तार के बीच 20-40 साल की उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण की अहमियत बताई जा रही है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे ने केंद्र से प्राथमिकता के आधार पर कोविड-19 से बचाव के लिए टीकों की डोज उपलब्‍ध कराने को कहा है। उन्‍होंने यह भी कहा कि कोविड-19 वैक्‍सीन की कमी के कारण लोगों को कई वैक्सीनेशन सेंटर से वापस भेजना पड़ रहा है।

अब तक 8.7 लाख से अधिक टीकाकरण

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण पर लगातार जोर दिया है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्य मंत्रालय के अनुसार, देशभर में अब तक 8.7 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण हो चुका है। बीते 24 घंटों के दौरान 33 लाख डोज लगाए गए, जबकि अब तक देशभर में कुल 8 करोड़ 70 लाख 77 हजार 474 टीके लगाए जा चुके हैं।

‘कोरोना की रोकथाम के लिए मास्‍क जरूरी’

कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम में मास्‍क को अहम बताया जा रहा है। इस दिल्‍ली हाईकोर्ट ने भी एक अहम सुनवाई में कहा कि यह वायरस के प्रसार को रोकने में सुरक्षा कवच कीत रह काम करता है। हाईकोर्ट का यह फैसला निजी कारों में भी मास्‍क नहीं पहनने पर चालान किए जाने को चुनौती दिए जाने वाली एक याचिका पर सुनवाई के बाद आया है। लेकिन हाई कोर्ट ने वाहन को सार्वजनिक स्‍थान करार देते हुए कहा कि अगर कोई कार में अकेले भी जा रहा है तो भी उसके लिए मास्‍क पहनना अनिवार्य है। हाईकोर्ट ने अपने फैसले में महामारी की रोकथाम में  मास्‍क की अहमियत को लेकर हुए शोधों और विशेषज्ञों की सलाह का हवाला दिया है।

1 दिन में सर्वाधिक मामले

देश में कोरोना वायरस संक्रमण की रफ्तार बेकाबू होती जा रही है। बुधवार को यहां 1.15 लाख से अधिक केस दर्ज किए गए, जो 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के नए केस की सर्वाधिक संख्‍या है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटों के दौरान देश में संक्रमण के 1 लाख 15 हजार 736 दर्ज किए गए हैं, जबकि 630 लोगों की जान गई है।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से बुधवार को जो आंकड़े जारी किए गए हैं, उसके अनुसार देश में संक्रमण के कुल केस अब बढ़कर 1 करोड़ 28 लाख 1 हजार 785 हो गए हैं, जबकि मृतकों की संख्‍या बढ़कर 1 लाख 66 लाख 177 हो गई है। देश में इस वक्‍त कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 8 लाख 43 हजार 473  एक्टिव केस हैं, जबकि अब तक 1 करोड़ 17 लाख 92 हजार 135 लोग इससे उबर चुके हैं।

अब तक 25.14 करोड़ नमूनों की जांच

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच जांच बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। आईसीएमआर के आंकड़ों के मुताबिक, मंगलवार को देशभर में 12 लाख 8 हजार 329 नमूनों की जांच की गई, जबकि 6 अप्रैल तक 25 करोड़ 14 लाख 39 हजार 598 नमूनों की जांच की जा चुकी है।

स्‍पूतनिक V की हर साल 10 करोड़ डोज

कोरोना के बढ़ते कहर के बीच टीकाकरण पर जोर दिया जा रहा है। टीकों का निर्माण बढ़ाने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं। इसी के तहत पैनासिया बायोटेक भारत में हर साल रूसी वैक्‍सीन स्‍पूतनिक V की 10 करोड़ डोज तैयार करेगा।

AIIMS OPD बंद

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्‍ली एम्‍स ने एक बार फिर से ओपीडी बंद करने का फैसला किया है। यह गुरुवार (8 अप्रैल) से प्रभावी होगा। सिर्फ ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन किया जा सकेगा और इसके बाद ही मरीज यहां दिखा सकते हैं। इसके लिए भी सीमा तय की गई है। हर विभाग में प्रतिदिन 50 से अधिक रजिस्‍ट्रेशन नहीं होंगे। यह आदेश अगले चार सप्‍ताह के लिए लागू रहेगा और उसके बाद हालात की समीक्षा के आधार पर फैसला लिया जाएगा।

झारखंड में नई गाइडलाइंस

झारखंड में कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए सरकार ने नई गाइडलाइंस जारी की है, जो 8 अप्रैल से प्रभावी होगी। इसके तहत दुकानों, रेस्‍टोरेंट, क्‍लब को रात 8 बजे के बाद खोलने की अनुमति नहीं होगी। हालांकि होम डिलीवरी सर्विस जारी रहेगी। यह गाइडलाइंस फिलहाल 30 अप्रैल तक के लिए लागू की गई है। इसके बाद हालात की समीक्षा के आधार पर फैसला लिया जाएगा।

गुजरात के 20 शहरों में नाइट कर्फ्यू

कोविड-19 को देखते हुए गुजरात में सरकार ने 20 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। वहीं शादी समारोह में शामिल होने वाले मेहमानों की संख्‍या 100 से अधिक नहीं होगी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here