Delhi Metro के कई स्टेशन अस्थाई रूप से बंद, नहीं हो रहा था सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

0
227

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर बेकाबू हो गई है और दिल्ली में कोरोना की बेतहाशा वृद्धि को देखते हुए सरकार ने 30 अप्रैल तक के लिए कई पाबंदियां लगाई हैं. इसके तहत रेस्टोरेंट, थिएटर और मेट्रो केवल 50 फीसदी क्षमता के साथ चलेंगे. अब सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए दिल्ली मेट्रो ने कई स्टेशनों पर एंट्री गेट को अस्थाई रूप से बंद कर दिया है.

इन स्टेशनों पर एंट्री गेट अस्थाई रूप से बंद
दिल्ली मेट्रो ने प्लेटफॉर्म और ट्रेनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए साकेत, कुतुब मीनार, कश्मीरी गेट, शास्त्री पार्क और सीलमपुर स्टेशन पर एंट्री गेट को बंद कर दिया है. हालांकि इन स्टेशनों के एग्जिट गेट खुले हैं और लोग यहां से बाहर निकल सकते हैं.

भीड़ कम होने के बाद खोले गए इन स्टेशन पर गेट
दिल्ली मेट्रो ने बताया कि इन मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश द्वार इसलिए बंद किए गए हैं, ताकि भीड़ को कम कर सामाजिक दूरी के नियम का पालन हो सके. दिल्ली मेट्रों ने बताया कि इससे पहले नई दिल्ली और चांदनी चौक मेट्रो स्टेशन पर भी एंट्री गेट बंद किए गए थे, जो भीड़ कम होने के बाद खोल दिए गए हैं.

झंडेवालान मंदिर बंद, कालकाजी में ई-पास जरूरी
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए दिल्ली में झंडेवालान मंदिर को बंद कर दिया गया और श्रद्धालु को नवरात्र में दर्शन नहीं कर पाएंगे. वहीं कालकाजी मंदिर में एंट्री के लिए ई-पास बनवाना होगा. मंदिर प्रशासन ने आम लोगों से अपील की है कि 10 साल से कम उम्र और 60 साल से अधिक उम्र के लोगों के साथ मंदिर आनें से बचें. प्रशासन द्वारा मंदिर में फूल-प्रसाद के चढ़ावे पर भी रोक लगाई गई है.

दिल्ली में बेकाबू हुई कोरोना की रफ्तार
देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस की रफ्तार बेकाबू होती जा रही है और लगातार रिकॉर्ड मामले सामने आ रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में सोमवार को कोरोना के 11491 नए मामले रिपोर्ट हुए, जबकि 72 मरीजों की मौत हुई है. दिल्ली में कोविड-19 के संक्रमण दर बढ़कर 12.44 प्रतिशत हो गई है. दिल्ली में कोरोना के अबतक कुल 736688 मामले सामने आ चुके हैं और 11355 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली में कोरोना सक्रिय मामलों की संख्या 38,095 हो गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here