ऑक्सीजन कंसंट्रेटर केस: कोर्ट में बोला कालरा का वकील- लीगल तरीके से ख़रीदा, तो बेचना गैरकानूनी कैसे ?

0
187

देश की राजधानी दिल्ली के खान मार्केट से बरामद किए गए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के मामले में आरोपी नवनीत कालरा की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई आरंभ हो गई है. साकेत कोर्ट में नवनीत कालरा की तरफ से वकील विकास पहवा अपनी दलील रख रहे हैं. नवनीत कालरा के वकील विकास पाहवा ने अदालत से कहा कि आज कल न्यायालय में दोषी साबित होने से पहले सोशल मीडिया में आरोपी को दोषी साबित कर दिया जाता है, हमें फेयर ट्रायल मिलना चाहिए. 

इस पर न्यायधीश ने कहा कि फेयर ट्रायल प्रत्येक आरोपी को मिलना उसका अधिकार है. नवनीत कालरा के वकील ने कहा कि मेरे क्लाइंट के ख़िलाफ़ अभियान चलाया जा रहा है. नवनीत कालरा के वकील विकास पाहवा ने कहा कि प्राथमिकी में जो भी आरोप लगाए गए है, वो सरासर ग़लत है, जहां मेरे रेस्टोरेंट से रिकवरी की गई है, वहां के मैनेजर और कर्मचारियों को भी अकारण गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि गिरफ्तार किए लोगों ने पुलिस को बताया कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सही ढंग से लाए गए.

नवनीत कालरा के वकील विकास पाहवा ने कहा कि सरकार को GST देकर और कस्टम से क्लियर कराकर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लाए गए है, इम्पोर्ट भी लीगल चैनल द्वारा किया गया और बेचा भी ऐप के जरिए गया, ऐसे में ये अवैध कैसे हो गया, इसे पुलिस अफसरों, नेताओं, जज और कई लोगों ने खरीदा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here