PFI के खिलाफ बड़ी करवाई, 100 से भी ज़्यादा जगहों पर छापेमारी

0
30

देश में छापेमारी का सिलसिला जारी है. इस बार यह छापेमारी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के खिलाफ की गई है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की अगुवाई में आज गुरुवार को उत्तर प्रदेश, केरल और कर्नाटक समेत 10 राज्यों में छापेमारी की गई है. छापेमारी के दौरान PFI से जुड़े 100 से ज्यादा लोगों की गिरफ्तारी की गई.

PFI से जुड़े ठिकानों पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी, प्रवर्तन निदेशालय और राज्य पुलिस की ओर से 10 राज्यों में यह कार्रवाई की गई. छापेमारी के दौरान 10 राज्यों में 100 से ज्यादा PFI के कैडर की गिरफ्तारी हुई है. ज्यादातर उन लोगों को पकड़ा गया है जो छापेमारी के दौरान स्पॉट के आसपास धरना प्रदर्शन कर रहे थे और ये सभी PFI के सदस्य हैं. कर्नाटक, केरल, तेलंगाना, बिहार, असम, दिल्ली, उत्तर-प्रदेश समेत कई अन्य राज्यों में 40 लोकेशंस है जहां छापेमारी की गई है.

सरकार ने लगतार बनाई हुई थी कड़ी नज़र

केंद्र सरकार पिछले कई महीनों से PFI के कार्यकलाप पर लगातार नजर रख रही थी और बड़ी-बड़ी बैठकें कर उनके कैडर्स के कामकाज पर नजर रख रही थी.उत्तर प्रदेश के अलावा आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु और अन्य राज्यों में कई स्थानों पर तलाशी ली गई. पीएफआई और इससे संबंधित लिंक पर जांच एजेंसी द्वारा देश भर में यह सबसे बड़ी कार्रवाई है.

100 से ज्यादा जगहों पर छापेमारी

पिछले कुछ दिनों से लगातार NIA ने PFI से जुड़े एक दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज किए हैं. एनआईए के सूत्रों के मुताबिक, हाल के दिनों में एजेंसी ने देश में पीएफआई लिंक के सिलसिले में 100 से ज्यादा जगहों पर छापेमारी की है.

पिछले दिनों 18 सितंबर को, राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने आंध्र प्रदेश के कई जिलों में कई स्थानों पर छापेमारी की थी और पीएफआई के सदस्यों को हिंसा भड़काने तथा अवैध गतिविधियों के सिलसिले में पूछताछ के लिए उठाया भी गया था. अधिकारियों ने तेलंगाना के निजामाबाद जिले में एक घर पर भी छापा मारा और हैदराबाद में एनआईए ऑफिस का दौरा करने वाले एक व्यक्ति को नोटिस जारी किया. एनआईए अधिकारियों की 23 टीमों ने एक साथ निजामाबाद, कुरनूल, गुंटूर और नेल्लोर जिलों में तलाशी ली थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here