कोरोना की मौजूदा स्थिति पर पीएम मोदी ने की समीक्षा बैठक, कहा- वैक्सीनेशन की रफ्तार ना पड़े धीमी

0
295

देश में कोरोना की दूसरी लहर बेकाबू होती जा रही है। रोजाना 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस दर्ज हो रहे है। वहीं मौत का ग्राफ भी बढ़ता जा रहा है। ऐसी स्थिति में उपजे हालातों पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने व्यापक समीक्षा की। पीएमओ से मिली जानकारी के मुताबिक उन्हें देश के जिन 12 राज्यों में 1 लाख से अधिक सक्रिय मामले हैं, उनकी विस्तृत जानकारी दी गई। इसके साथ ही देश के जिन जिलों में कोरोना से अधिक मौतें हुई हैं, उससे भी अवगत कराया गया।

देश में कोरोना की स्थिति को लेकर की गई समीक्षा बैठक में पीएम मोदी को राज्यों के स्वास्थ्य सुविधाओं के बुनियादी ढांचे के बारे में बताया गया। इस दौरान पीएम ने निर्देश दिया कि स्वास्थ्य सेवाओं के बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए प्रमुख संकेतकों के बारे में राज्यों को मदद और मार्गदर्शन दिया जाना चाहिए। इसके साथ ही त्वरित और समग्र रोकथाम उपायों को सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर भी चर्चा की गई।

इसके साथ ही पीएम ने दवाओं की उपलब्धता की भी समीक्षा की। उन्हें रेमेडिसविर सहित दवाओं के उत्पादन में तेजी से वृद्धि के बारे में जानकारी दी गई। पीएम ने अगले कुछ महीनों में कोरोना वैक्सीन के उत्पादन बढ़ाने के लिए टीकाकरण और रोडमैप की प्रगति की समीक्षा की। उन्हें उन्हें बताया गया कि राज्यों को लगभग 17.7 करोड़ टीके की आपूर्ति की गई है। पीएम ने कहा कि टीकाकरण की गति में कमी नहीं आनी चाहिए। वहीं उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बावजूद नागरिकों को टीकाकरण की सुविधा दी जानी चाहिए। और इसके काम में लगे स्वास्थ्यकर्मियों को कोई और जिम्मेदारी नहीं देने की भी बात कही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here