हैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के एनकाउंटर के बाद 5 प्वाइंट में जानें पुलिस की पूरी कहानी

0
424

हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक से दुष्कर्म और हत्या मामले में हैदराबाद पुलिस ने शुक्रवार को चारों आरोपियों मोहम्मद आरिफ, नवीन, शिवा और चिंताकुटा को एनकाउंटर में मार गिराया. पुलिस की इस कार्रवाई पर सवाल उठने पर साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार ने प्रेसवार्ता कर कहा कि दो आरोपियों ने हथियार छीनने के बाद पुलिस पर गोलियां चलायीं, जिसके बाद पुलिस ने जवाबी गोलीबारी की.

उन्होंने आगे कहा कि मोहम्मद आरिफ ने सबसे पहले पुलिस पर गोली चलाई. वारदात स्थल पर पुलिस की जो टीम उन्हें लेकर वहां गई थी, उस पर भी ईंट-पत्थरों से हमला किया गया. उन्होंने कहा कि छीने गए हथियार अनलॉक (फायरिंग के लिए तैयार) स्थिति में थे.

पुलिस कमिश्नर की प्रेस कॉन्फ्रेंस की ये हैं 5 बड़ी बातें

  1. साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर ने बताया कि 10 दिनों से चारों आरोपी पुलिस हिरासत में थे. हमने सभी से पूछताछ की थी. जब उन्होंने अपराध कबूल कर लिया तो हम उन्हें घटनास्थल पर ले गए, जहां सीन रिक्रएट किया जाना था. घटनास्थल पर पहुंचते ही आरोपी ने हमला कर दिया. आरोपी पत्थरबाजी कर पुलिस से बंदूकें छीनने में कामयाब रहे. इसके परिणामस्वरूप हमें एनकाउंटर करना पड़ा.
  2. पुलिस कमिश्नर ने कहा कि हमें संदेह है कि कर्नाटक में कई अन्य मामलों में भी आरोपी शामिल थे, जांच जारी है. शुक्रवार सुबह 5.45 से 6.15 के बीच में इन चारों आरोपियों का एनकाउंटर किया गया.
  3. पुलिस के अनुसार, आरोपी मोहम्मद आरिफ और केशवुलु ने हथियार छीन लिए. वे फायरिंग करते हुए भागने की फिराक में थे. पुलिस कमिश्नर सीवी सज्जनार ने दावा किया कि इस मामले में उनके पास पर्याप्त सबूत हैं.
  4. पुलिस कमिश्नर सीवी सज्जनार ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग द्वारा मामले के स्वतः संज्ञान लिए जाने के सवाल पर बताया कि जो कोई भी संज्ञान लेता है, हम उत्तर देंगे. राज्य सरकार, एनएचआरसी, सभी को मैं केवल यह कह सकता हूं कि कानून ने अपना कर्तव्य निभाया है.
  5. उन्होंने आगे कहा कि मुठभेड़ के समय आरोपियों के साथ करीब 10 पुलिसवाले थे. हमने घटनास्थल पर पीड़िता का सेलफोन बरामद किया है. हमने आरोपियों से दो हथियार भी बरामद किए हैं. आरोपियों के शव को पोस्टमार्टम के लिए स्थानीय सरकारी अस्पताल में भेज दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here