‘सब याद रखा जाएगा’, ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं होने के केंद्र के बयान पर राहुल गांधी का तंज

0
250

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं होने संबंधी बयान को लेकर बृहस्पतिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने दूसरी लहर के दौरान हुई ऑक्सीजन की कमी से संबंधित कुछ ब्यौरे का वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘सब याद रखा जाएगा.’’ केंद्र सरकार ने मंगलवार को राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया था कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश से ऑक्सीजन के अभाव में किसी भी मरीज की मौत की खबर नहीं मिली है.

स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने उच्च सदन में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा था, ‘‘केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोविड से मौत की सूचना देने के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं.’’ उन्होंने जानकारी दी थी, ‘‘इसके अनुसार सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश नियमित रूप से केंद्र सरकार को कोविड के मामले और इसकी वजह से हुई मौत की संख्या के बारे में सूचना देते हैं. बहरहाल किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश ने ऑक्सीजन के अभाव में किसी की भी जान जाने की खबर नहीं दी है.

इससे पहले प्रियंका हुईं हमलावर

इससे पहले कोविड महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं होने संबंधी बयान को लेकर केंद्र सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को आरोप लगाया कि ये मौतें इसलिए हुईं क्योंकि महामारी वाले साल में सरकार ने ऑक्सीजन निर्यात बढ़ा दिया और ऑक्सीजन का ट्रांसपोर्ट करने वाले टैंकरों की व्यवस्था नहीं की. केंद्र सरकार ने मंगलवार को राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया था कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश से ऑक्सीजन के अभाव में किसी भी मरीज की मौत की खबर नहीं मिली है. प्रियंका गांधी ने कहा था कि अधिकार सम्पन्न समूह और संसदीय समिति की सलाह को नजरंदाज किया गया और ऑक्सीजन उपलब्ध कराने का कोई इंतजाम नहीं किया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here