हार से शुरू हुआ शिबू सोरेन-हेमंत सोरेन का राजनीतिक करियर और बन गए झारखंड के सिकंदर

0
354

झारखंड में अब तक 4 बार सीएम का पद सोरेन परिवार में रहा। झारखंड मुक्ति मोर्चा के संस्थापक शिबू सोरेन झारखंड के 3 बार मुख्यमंत्री रहे। वहीं उनके बेटे हेमंत सोरेन एक बार सीएम रह चुके हैं और दूसरी बार उनका सीएम बनना तय है। झारखंड विधान सभा चुनाव 2019 में कांग्रेस-जेएमएम-राजद गठबंधन के वो मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार थे और गठबंधन हेमंत सोरेन के चेहरे पर ही चुनाव लड़ा था। अब झारखंड के अब तक के आए नतीजे और रुझान से यह साफ हो गया है कि ‘झारखंड में अबकी बार सोरेन सरकार।’

बाप-बेटे का करियर 

पिता शिबू ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत हार से की। शिबू सोरेन ने पहला लोकसभा चुनाव 1977 में लड़ा था, लेकिन उस चुनाव में उन्हें हार मिली थी। वह पहली बार 1980 में लोकसभा सांसद चुने गए। इसके बाद शिबू 1989, 1991 और 1996 में लोकसभा चुनाव जीते।

वहीं हेमंत सोरेन ने अपना पहला चुनाव 2005 में दुमका सीट से लड़ा। इस सीट पर उनका मुकाबला निर्दल नेता स्टीफेन मरांडी से था। इस चुनाव में हेमंत झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्मीदवार के रूप में 19,610 वोट पाए और तीसरे स्थान पर रहे। स्टीफेन मरांडी (Stephen Marandi) को 41,340 वोट मिले और उन्होंने जीत हासिल की। दूसरे स्थान पर बीजेपी के मोहर्रील मुर्मू रहे।

इस बार हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार थे

झामुमो-कांग्रेस-राजद महागठबंधन के तहत हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार थे। हेमंत सोरेन अभी झारखंड विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं। हेमंत सोरेन 2013-14 में झारखंड के मुख्यमंत्री रहे थे। दुर्गा सोरेन जामा से 1995 से 2005 तक विधायक रहे हैं। इनके भाई बसंत सोरेन झारखंड मुक्ति मोर्चा के यूथ संगठन झारखंड युवा मोर्चा के अध्यक्ष हैं।

शिबू सोरेन का मुख्यमंत्री पद गया फिर नौसिखिये से मिली हार

शिबू सोरेन ने 2009 में झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन कुछ महीनों बाद ही भाजपा से समर्थन न मिलने पर वह बहुमत साबित नहीं कर सके और उन्हें मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था। 2009 में तमाड़ विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में उन्हें झारखंड पार्टी के गोपाल कृष्ण उर्फ राजा पीटर ने 9000 वोटों के अंतर से मात दे दी थी।

3 बार सीएम रह चुके पिता शिबू सोरेन के बेटे हेमंत सोरेन दूसरी बार बनेंग सीएम

19 साल के झारखंड अब तक तीन बार राष्ट्रपति शासन देख चुका है। अब तक 11 बार सीएम पद पर नेता आसीन हुए जिनमें से शिबू सोरेन 3 बार सीएम रहे। वहीं हेमंत सोरेन भी एक बार सीएम रह चुके हैं। अगर इस बार भी वो सीएम बनते हैं तो यह पांचवां मौका होगा जब सोरेन परिवार में ही झारखंड के मुख्यमंत्री की कुर्सी रही। देखें झारखंड के मुख्यमंत्रियों की लिस्ट..

1बाबूलाल मरांडी15 Nov 200017 Mar 2003
2अर्जुन मुंडा18 Mar 20032 Mar 2005
3शिबू सोरेन2 Mar 200512 Mar 2005
4अर्जुन मुंडा12 Mar 200514 Sep 2006
5मधु कोड़ा14 Sep 200623 Aug 2008
6शिबू सोरेन27 Aug 200818 Jan 2009
 राष्ट्रपति शासन19 Jan 200929 Dec 2009
7शिबू सोरेन30 Dec 200931 May 2010
 राष्ट्रपति शासन1 Jun 201011 Sep 2010
8अर्जुन मुंडा11 Sep 201018 Jan 2013
 राष्ट्रपति शासन18 Jan 201312 Jul 2013
9हेमंत सोरेन13 Jul 201323 Dec 2014
10रघुवर दास28 Dec 2014Present

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here