माघ मेले में पहुंचे ‘हिटलर’ और ‘ट्रम्प’, प्रयागराज में कर रहे भक्ति उपासना

0
208

संगम नगरी प्रयागराज में इन दिनों माघ मेला लगा हुआ है जहां साधु महात्मा बड़ी तादाद में आते हैं और भक्ति उपासना करते हैं. लेकिन इस बार ये मेला संतों के अनूठे नामों की वजह से चर्चा में आया हुआ है.

वैसे तो संतों की कोई जाति,धर्म नहीं होता. जो नाम उनके गुरु से उन्हें मिलता है उसी से उनकी पहचान होती है. माघ मेले में इस बार ऐसे ही अनोखे नाम वाले हिटलर बाबा, ट्रम्प बाबा की खूब चर्चा है.

दरअसल, माघ मेले में कई ऐसे संत आए हैं, जिनके नाम बेहद ही रोचक और विचित्र हैं. इनमें संतों में दिगंबर अनी अखाड़ा के महामंडलेश्वर माधव दास भी हैं. जिन्हें उनके हिटलर बाबा कहा जाता है. महामंडलेश्वर माधव दास को उनके सख्त स्वभाव के कारण शिष्य उन्हें ‘हिटलर’ बाबा के नाम से बुलाते हैं. बाबा माधव दास को हठी स्वभाव के कारण उनके गुरु रघुवर दास ने ये नाम उन्हें दिया था. महामंडलेश्वर माधव दास (हिटलर बाबा) कहते हैं कि मैंने हमेशा वहीं किया जो मुझे सही लगता. मैं अपने निर्णय के प्रति अडिग रहा. जिससे गुरु ने उनको हिटलर बाबा दिया।

वहीं यहां एक ट्रंप बाबा भी हैं. इनका असली नाम कंचनदास जी महाराज है. कंचनदास जी महाराज ने अच्छी पढ़ाई. उन्होंने . कॉम उपाधि हासिल की, लेकिन 2004 में संन्यासी जीवन चुन लिया था. वह फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने हैं. उनका कद-काठी और चेहरा कुछ अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मेल खाता है. डोनाल्ड ट्रंप जब अमेरिकी राष्ट्रपति बने थे तो कंचनदास जी महाराज ने उनकी हर गतिविधि में गहरी रुचि ली थी. मसलन कंचनदास जी महाराज के गुरू ने उनका उपनाम ट्रंप बाबा ही रख दिया.

माघ मेले में पहुंचे ‘हिटलर’ और ‘ट्रम्प’, प्रयागराज में कर रहे भक्ति उपासना

संगम नगरी प्रयागराज में इन दिनों माघ मेला लगा हुआ है जहां साधु महात्मा बड़ी तादाद में आते हैं और भक्ति उपासना करते हैं. लेकिन इस बार ये मेला संतों के अनूठे नामों की वजह से चर्चा में आया हुआ है.

वैसे तो संतों की कोई जाति,धर्म नहीं होता. जो नाम उनके गुरु से उन्हें मिलता है उसी से उनकी पहचान होती है. माघ मेले में इस बार ऐसे ही अनोखे नाम वाले हिटलर बाबा, ट्रम्प बाबा की खूब चर्चा है.

दरअसल, माघ मेले में कई ऐसे संत आए हैं, जिनके नाम बेहद ही रोचक और विचित्र हैं. इनमें संतों में दिगंबर अनी अखाड़ा के महामंडलेश्वर माधव दास भी हैं. जिन्हें उनके हिटलर बाबा कहा जाता है. महामंडलेश्वर माधव दास को उनके सख्त स्वभाव के कारण शिष्य उन्हें ‘हिटलर’ बाबा के नाम से बुलाते हैं. बाबा माधव दास को हठी स्वभाव के कारण उनके गुरु रघुवर दास ने ये नाम उन्हें दिया था. महामंडलेश्वर माधव दास (हिटलर बाबा) कहते हैं कि मैंने हमेशा वहीं किया जो मुझे सही लगता. मैं अपने निर्णय के प्रति अडिग रहा. जिससे गुरु ने उनको हिटलर बाबा दिया।

वहीं यहां एक ट्रंप बाबा भी हैं. इनका असली नाम कंचनदास जी महाराज है. कंचनदास जी महाराज ने अच्छी पढ़ाई. उन्होंने . कॉम उपाधि हासिल की, लेकिन 2004 में संन्यासी जीवन चुन लिया था. वह फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने हैं. उनका कद-काठी और चेहरा कुछ अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मेल खाता है. डोनाल्ड ट्रंप जब अमेरिकी राष्ट्रपति बने थे तो कंचनदास जी महाराज ने उनकी हर गतिविधि में गहरी रुचि ली थी. मसलन कंचनदास जी महाराज के गुरू ने उनका उपनाम ट्रंप बाबा ही रख दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here