उत्तर प्रदेश में अब आधे कर्मचारी ही आएंगे दफ्तर, वर्क फ्रॉम होम से होगा काम, क्या फिर लगेगा यूपी में लॉकडाउन?

0
182

पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर ने तबाही मचा दी है. अन्य राज्यों के साथ-साथ यूपी का भी हाल बेहाल है. यूपी के कई जिलों में कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा होता जा रहा है. कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए यूपी की योगी सरकार ने एक बड़ा फैसला किया. जिसके तहत अब लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज और कानपुर के सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में 50 फीसदी कर्मचारी ही काम करेंगे.

गौरतलब है कि कोरोना की दूसरी तहर में यूपी में संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए यूपी के जनपद लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, गाजियाबाद, मुरादाबाद और प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. इसके अलावा सीएम योगी ने आला प्रशासनिक अधिकारियों को पूरी तरह सर्तकता बरतने के आदेश दिए हैं. सीएम ने कहा है कि, ऑफिस परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन हो, और कर्मचारी भी अलग अलग शिफ्टों में काम करें.

टीका उत्सव मनाने की तैयारीः वहीं बढ़ते कोरोना की रोकथाम और ज्यादा से ज्यादा लोग टीका लगवाएं, इसको लेकर प्रदेश की योगी सरकार आगामी 11 अप्रैल को महात्मा ज्योतिबा फुले जी की जयंती से लेकर बाबा साहब डॉ. बी.आर. आम्बेडकर जी की जयंती तक प्रदेश में ‘टीका उत्सव’ मनाए जाने की तैयरी कर रही है. सीएम योगी ने लोगों से अपील की है कि इसमें बढ़-चढ़ कर हिस्सा लें.

लग सकता है लॉकडाउन..? : वहीं, कोरोना के खतरे को कम करने के लिए सरकार की ओर से वर्क फ्रॉम होम सुविधा देने की बात कही है. सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में इसे लागू करने को कहा गया है. गौरतलब है कि यूपी में हर दिन कोरोना के आंकड़ों में इजाफा होता जा रहा है. जिस तरह संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, ऐसे में इस बात का भी डर सता रहा है कि कहीं यूपी में एक बार फिर लॉकडाउन की नौबत न आ जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here